भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अंतिम टुकड़ा / कविता भट्ट

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


सड़क के लिए काटे गए
वट वृक्ष के शव का
अंतिम टुकड़ा
लाद दिया गया
दिल्ली वाले ट्रक में
वहाँ किसी बड़ी फ़र्नीचर -फ़र्म में
इससे बनेंगे सुन्दर कुर्सी-मेज़;
मेज़ पर ,
प्लास्टिक की बोतलें सजा
कुर्सियों पर विराजमान होंगे
माननीय पर्यावरणविद
करेंगे
पर्यावरणीय नीतियों पर चर्चाएँ

रोता रहेगा ठूँठ
सुनकर इनकी बातें ।