भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अकेला पेड़/ कुँवर दिनेश

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

{

1
अकेला पेड़
घर की दीवार से
सटा है पेड़
2
नन्हा सा सोता
बीहड़ जंगल में
एकल रोता
3
तारों का मेला
रात है जगमग
चाँद अकेला
4
नार अकेली
छेड़ती बार बार
हवा सहेली
5
डगर सूनी
जी बहलाने आयी
हवा बातूनी
-0-