भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अरविंदसिंह नेकितसिंह / परिचय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अरविंदसिंह नेकितसिंह नुवेल फ्रांस में स्थित महात्मा गांधी संस्थान माध्यमिक विद्यालय में हिंदी शिक्षक है । उच्च स्नातकीय शिक्षा के रूप में एम. ए हिंदी और एम.एस.सी एजुकेशनल एद्मिनिस्ट्रेशन एण्ड टेक्नोलॉजी पूरा कर चुका है. साहित्य के संसार से कई वर्षों से किसी न किसी रूप से जुड़ा रहा और पिछले छः वर्षों से साहित्य सृजन में लगा हुआ है ।. अब तक के लिखे गये कविताओं और क्षणिकाओं में से एक दो महात्मा गांधी संस्थान के प्रकाशन विभाग से निकलने वाले दो पत्रिकाओं में छप चुकी हैं ।

विश्व हिंदी सचिवालय द्वारा निकलने वाले न्यूज़लेटर में भी लेख छप चुका है. मॉरीशस में हिंदी से जुड़ी विभिन्न संस्थाओं द्वारा आयोजित कवि सम्मेलनों में भाग लेता रहता है । निबंध लेखन में रुचि है तथा महात्मा गांधी संस्थान द्वारा आयोजित २००८ के निबंध प्रतियोगिता में तृतीय पुरस्कार भी जीत चुका है । नाट्य कला में भी रुचि है । प्रांतीय स्तर पर कई क्रियोली नाटकों में अभिनय कर चुका है और साथ ही साथ निर्देशन भी । हिंदी के क्षेत्र में अभी तक एक ही नाटक लिखा और राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत किया है “जागो पाण्डव” । अभी ‘दक्षिणी ध्रुव’ नामक ब्लॉग (dakshinidhruv@blogspot.com) के संचालकों में से एक है ।