भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अल्प विकास की समस्याएँ / निकोलस गियेन / गिरधर राठी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

{{KKRachna

मुखपृष्ठ  » रचनाकारों की सूची  » रचनाकार: निकोलस गियेन  » अल्प विकास की समस्याएँ / निकोलस गियेन

महाशय दूपों कहते हैं — असभ्य हो
क्योंकि तुम बता नहीं सकते
कि कौनसा था विक्तर ह्यूगो का प्रिय नाती ।

श्रीमान मूलर लग पड़े चीख़ने
क्योंकि तुम्हें पता नहीं (ठीक-ठीक)
कि किस दिन मरा था बिस्मार्क ।

स्मिथ साहब,
अँग्रेज़ या अमरीकी पता नहीं,
फट पड़ते हैं जब तुम लिखते हो शेल,
(शायद तिम एक ’एल’ देते हो निकाल,
तिस पर तुर्रा यह, उसे पढ़ते हो सेल ।)

ठीक है, इससे क्या?
जब बारी आए तुम्हारी,
तुम कहना बोलकर बताओ
वोकावेलिका[1] ,
पूछना — कहाँ पाया जाता है आकोन्काग्वा ?
कौन था सूक्रे[2]  ?
और इस ग्रह के किस ठाँव पर
मरा था मार्ती[3] ?
(कृपया ध्यान रखें :
        बुलवाना उनसे हमेशा स्पानी में ।)

अँग्रेज़ी भाषा से अनुवाद : गिरधर राठी

शब्दार्थ
  1. पेरू के एण्डीज पर्वतमाला में एक शहर
  2. ओतोन्यो होसे दे दूक्रे (1793-1830), वेनेजुएला के एक सेनापति, दक्षिणी अमरीका के एक प्रमुख मुक्ति-कर्ता, बोलिविया के पहले राष्ट्रपति ।
  3. होसे मार्ती, क्यूबा के प्रसिद्ध नायक