भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

आत्महत्या / इराक्ली ककाबाद्ज़े / राजेश चन्द्र

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मैंने अपना सिर
अन्दर डाला पानी के,
मैंने रोक ली अपनी सांस
कुछ देर के लिए,

मैं महसूस करना चाहता था
तीव्रता के साथ
कि कैसा लगा होगा उसे

जब उसने अपनी जान दी होगी...

अँग्रेज़ी से अनुवाद : राजेश चन्द्र

लीजिए, अब इसी कविता का जार्जियाई भाषा से अँग्रेज़ी अनुवाद पढ़िए
              Irakli Kakabadze

I put my head under the water,
I hold my breath for a second,
I want to feel intensely
What he felt
when he took his life . . .

Translated from Georgian by Mary Childs