भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

आपने गांव के लिए / राजेन्द्र देथा

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जिस दिन पूछा जाएगा मुझे
मेरे गाँव के अस्तित्व के बारे में
टुटी झौंपडियों के बारे में
गांव में खेल रहे नादानों के बारे में
मैं नामजद करवाऊंगा
शहर के कुछ बनियों और
गांव के कुछ नवविवाहिताओं के नाम!