भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

एक अधूरा सपना / लैंग्स्टन ह्यूज़

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मुखपृष्ठ  » रचनाकारों की सूची  » रचनाकार: लैंग्स्टन ह्यूज़  » संग्रह: आँखें दुनिया की तरफ़ देखती हैं
»  एक अधूरा सपना

क्या होता है
जब कोई सपना
अधूरा रह जाता है
क्या सूख जाता है
धूप में किशमिश की तरह
या सड़ जाता है घाव की तरह
और फिर से बहने लगता है
क्या यह सड़े हुए माँस की तरह
महकने लगता है
या मिठाई पर जमी पपड़ी की तरह
जम जाता है
हो सकता है धसक जाता हो
भारी बोझ की तरह
या फिर से प्रस्फुटित हो उठता है
अचानक एक दिन


मूल अंग्रेज़ी से अनुवाद : राम कृष्ण पाण्डेय