भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

एक तानाशाह से / चेन्जेराई होव / राजेश चन्द्र

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

(एक पाकिस्तानी कवि की याद में, जिसे देशनिकाला दे दिया गया।)

तुम्हारे दौर में
तुमने दूर कर दिया हमसे
हमारी स्वतंत्रता के सार को ।

तुम्हारे दौर में
कमज़ोर लोगों ने हिफ़ाज़त की
तुम्हारी दुर्बलताओं की,
और धरती रोती रही लगातार,

चन्द्रमा तक स्याह पड़ गया था
तुम्हारे दौर में ।

अँग्रेज़ी से अनुवाद : राजेश चन्द्र

अब यही कविता मूल अँग्रेज़ी में पढ़िए

         Chenjerai Hove
        TO A DICTATOR
(in memory of a Pakistani poet who refused)

in your time
you took away
the flowers of our freedom.
in your time
the weak defended
your weakness,
and the land cried;
the moon too
was dark
in your time.