भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

एक प्रेमी का सफ़र / रुडयार्ड किपलिंग / तरुण त्रिपाठी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जब एक प्रेमी उतावला होकर निकलता है
अपने प्रियतम की तलाश में
ऐज़्रीअल[1] मुसस्कुराते हुए म्यान में डाल देता है अपनी तलवार,
ऊपर से मुस्कुरा पड़ता है स्वर्ग
धरती और समंदर
होते उसके दास
और घूम जाता है दिकसूचक
दूरी करने को कम
कि शीघ्र मिल जाए उसका प्रियतम!

  1. ईसाई और इस्लाम धर्म में 'मृत्यु के दूत', यमराज