भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

औचित्योसिद्धी / राजेन्द्र देथा

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

तमाम रूमानी कवि-कवियत्रियां,
मानवतावादी लेखक, लेखिकाएं
जिस दिन स्वयं के लिखे को
क्रियान्वित कर लेगी अपने स्तर तक
उस दिन लिखी जाएगी
एक सच्चे इल्म से सरोबार
"औचित्योसिद्धी" नाम से
एक सुंदर पुस्तक
जिसके समकक्ष न
छप पाएगी कोई
अन्य किताब!