भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार
Roman

कन्हैया लाल सेठिया

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

कन्हैया लाल सेठिया
Kanhaiyalal-Sethia.JPG
जन्म 11 सितम्बर 1919
निधन 11 नवम्बर 2008
उपनाम
जन्म स्थान सुजानगढ़ (राजस्थान)
कुछ प्रमुख कृतियाँ
हिंदी वनफूल, अग्णिवीणा, मेरा युग, दीप किरण, प्रतिबिम्ब, आज हिमालय बोला, खुली खिड़कियां चौड़े रास्ते, प्रणाम, मर्म, अनाम, निर्ग्रन्थ, स्वागत, देह-विदेह, आकाशा गंगा, वामन विराट, श्रेयस, निष्पति एवं त्रयी


राजस्थानी रमणियां रा सोरठा, गळगचिया, मींझर, कूं-कूं, लीलटांस, धर कूंचा धर मंजलां, मायड़ रो हेलो, सबद, सतवाणी, अघरीकाळ, दीठ, क-क्को कोड रो, लीकलकोळिया एवं हेमाणी

विविध
भारत सरकार द्वारा 'पद्म-श्री' से सम्मानित। 'लीलटांस' के लिए राजस्थानी में साहित्य अकादेमी, 'सबद' काव्य-संग्रह के लिए राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, बीकानेर द्वारा सर्वोच्च पुरस्कार के अलावा ज्ञानपीठ के मूर्तिदेवी सहित अनेक मान-सम्मान और पुरस्कारों से पुरस्कृत महाकवि के रूप में राजस्थानी के कालजयी कवि ।

कन्हैयालाल सेठिया समग्र का चार खण्डों में प्रकाशन श्री जुगलकिशोर जैथलिया के संम्पादन में हो चुका है।

जीवन परिचय
कन्हैया लाल सेठिया / परिचय
कविता कोश पता
www.kavitakosh.org/{{{shorturl}}}

हिंदी कविता-संग्रह

राजस्थानी कविता-संग्रह

राजस्थानी कविता-संग्रहों का हिंदी अनुवाद

मूल राजस्थानी में लिखी अति लोकप्रिय और चर्चित कविताएँ

राजस्थानी से अनूदित कविताएँ

हिन्दी कविताएँ