भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

कमल कर गहि कमलवर्णी, कमल कोर बिच शोभिता / मैथिली लोकगीत

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मैथिली लोकगीत   ♦   रचनाकार: अज्ञात

कमल कर गहि कमलवर्णी, कमल कोर बिच शोभिता
सिंह उपर एक कमल राजित, ताहि ऊपर भगवती
दाँत खटखट, जीह लह, सोने दाँत मढ़ाबिती
असुर धय धय, खप्परि भरि भरि, शोणित पिबति माँ कालिका
हेमन्त पति के इहो निवारण, नाम थिक देवी कुमारिका