भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  रंगोली
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार
Roman

कविता सुनाई पानी ने-7 / नंदकिशोर आचार्य

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

छैनी की हर चोट
छील देती है मुझको
और उभार देती है
रूप तुम्हारा

तुम्हारा रूप है जो
छिलना है मेरा ।