भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

ख़्वाब का चेहरा / सफ़दर इमाम क़ादरी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पत्थर, मिट्टी, पेड़, बर्फ़
बादल और आकाश
रौशनी और रोमानी धूप
ख़्वाब का चेहरा कैसा होगा?
आओ, इस वादी में
तकमील की क़समें पूरी कर लें!