भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

चिड़ियॉं (हाइकु) / भावना कुँअर

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

(चिड़ियॉं)
चिड़ियॉं गातीं
घंटियॉं मन्दिर की
गीत सुनातीं

(सर्दी)
फटी रज़ाई
ये मत पूछो कैसे
सर्दी बिताई

(हिरणी)
दुखी हिरणी
 खोजती है अपना
बिछड़ा बच्चा

(होली)
परदेस में
जब होली मनाई
तू याद आई

(छटपटाहट)
कहना चाहूँ
 है छटपटाहट
कह ना पाऊँ