भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

चीज़ें जिन्हें आप सुन सकते हैं / अशूरा एतवेबी / राजेश चन्द्र

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

राह जो रुह तक ले जाती है
तय नहीं की जा सकती ऊँट पर सवार होकर
राह जो रुह तक ले जाती है
तय नहीं हो सकती ख़यालों के सहारे

उनीन्देपन में भी सुनी जा सकती हैं कई चीज़ें
बच्चों के पांवों के बीच फुटबॉल का लुढ़कना
घर के छप्पर से गिरते कँकड़ की आवाज़
दक्षिण की ओर जाते पक्षियों के डैनों की फड़फड़
किसी शानदार घर के ओसारे पर बैठी
एक बूढ़ी औरत का नि:श्वास
किसी घोंसले की चीं-चीं का कोरस
ख़ुबानी के पेड़ में पहली बार बौर का आना

दुनिया के गवाक्ष से :
मैं देखता हूँ स्याह आवरण रात का
पहरेदारों का सीटी बजाना
फूल बिखरे हुए नदी तट पर
एक आदमी मेरा पीछा करता हुआ

अपने तकिये के नीचे
मैंने एक सूरज रख लिया है
जैसे -जैसे यह अँकुरित होता है
होता जाता है और-और जवान

अँग्रेज़ी से अनुवाद : राजेश चन्द्र