भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

चुनें अवाम जिसे उसको रहनुमा कहिये / दरवेश भारती

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

चुनें अवाम जिसे उसको रहनुमा कहिये
उसे मुहाफ़िज़े-आलम, उसे खुदा कहिये

जो रेंग-रेंग के मक़सद की सिम्त बढ़ती हो
उसी को मुल्क की इक ख़ास योजना कहिये

बना-बनाया बिगाड़े जो शख़्स आज उसको
न बेशुऊर ही कहिये, न सरफिरा कहिये

शरीफ़ लफ़्ज़ कहाँ है चलन में अब यारो
ज़मानासाज़ को ही आज पारसा कहिये

है नेट पे आज उजागर जो फ़ेसबुक 'दरवेश'
हयाते-हाज़िरा का उसको आइना कहिये