भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

छायाएँ / ज़्देन्येक वागनेर

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जो छायाएँ
हमारे सामने
और हमारे मनों में भी
दिख़ाई पड़ती हैं

वे ही बताती हैं
कि सूर्य
हमारे पथ को
चमकाता रहता है

अब ज़रा
इस संदेश को आगे बढ़ाओ


अब यही कविता चेक भाषा में पढ़े :

STÍNY

Nechť stíny,
jež zjevují se
okolo nás i v nás,
jen tomu slouží,
aby zvěstovaly,
že Slunce stále svítí
na cestu naši.
Pošli to dál!