भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

जानेमन / एरलिण्डो बारबेइटोस

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जानेमन !
तुम्हारी आँखें जामुन हैं
कि
खा जाऊँगा मैं उन्हें

मुझे होना नहीं चाहिए
अंधेपन का डर


पर आत्मा
जानेमन !
इश्क मेरा
है
एक डर नरभक्षक