भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

तय तो यही हुआ था / शरद बिलौरे

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

तय तो यही हुआ था
Tay To Yahi Hua Tha.jpg
रचनाकार शरद बिलौरे
प्रकाशक परिमल प्रकाशन, 743, मोतीलाल नेहरू नगर, इलाहाबाद-211002
वर्ष 1982
भाषा हिन्दी
विषय कविताएँ
विधा
पृष्ठ 88
ISBN
विविध कवि शरद बिलौरे की मृत्यु के बाद कवि राजेश जोशी ने शरद बिलौरे की कुल सौ कविताओं में से चवालिस कविताओं का यह संग्रह सम्पादित किया । इसी कारण ये कविताएँ सुरक्षित रह गईं ।
इस पन्ने पर दी गई रचनाओं को विश्व भर के स्वयंसेवी योगदानकर्ताओं ने भिन्न-भिन्न स्रोतों का प्रयोग कर कविता कोश में संकलित किया है। ऊपर दी गई प्रकाशक संबंधी जानकारी छपी हुई पुस्तक खरीदने हेतु आपकी सहायता के लिये दी गई है।