भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

तूने प्यार किया / मरीना स्विताएवा

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


तूने प्यार किया मुझे
सच्चाई के झूठ
और झूठ की सच्चाई से।
तूने प्यार किया मुझे
अब बता कहाँ जाएँ
विदेश से भी आगे।

तूने मुझे प्यार किया
काल से अधिक दीर्घ-
हाथों के फैलाव से
तू अब नहीं करता प्यार मुझे-
सच्चाई है इन छह शब्दों में।


रचनाकाल : 12 अक्तूबर 1923

मूल रूसी भाषा से अनुवाद : वरयाम सिंह