भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

दिनेश्वर प्रसाद

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

दिनेश्वर प्रसाद
Dineshwar-Prasad.jpg
जन्म 04 जनवरी 1932
निधन 13 अप्रैल 2012, राँची में
उपनाम
जन्म स्थान मयदरियापुर, मुँगेर, बिहार
कुछ प्रमुख कृतियाँ
1.सूरज के पार (अपनी तथा अन्य छह कवियों की कविताओं का सहसम्पादन), 2. मैं इस पृथ्वी को कभी नहीं भूलूँगा (वाल्ट व्हिटमैन की कविताओं का अनुवाद), 3. फादर कामिल बुल्के के अँगरेज़ी- हिन्दी कोश का संशोधन एवम् परिवर्द्धन, 4.लोक साहित्य और संस्कृति 5.मिथक, प्रतीक और कविता 6. प्रसाद की विचारधारा, 7. हॉफमैन ऑन मुण्डारी पोएट्री, 8. मानस कौमुदी (फादर कामिल बुल्के के साथ), 9. बाइबिल के तीन लघु उपन्यास (डॉ कामिल बुल्के के साथ), 10. प्रसाद की साहित्य दृष्टि, 11.मुण्डारी शब्दावली: अखिल भारतीय संदर्भ, 12. फादर कामिल बुल्केः भारतीय साहित्य के निर्माता, 13. आज के लोकप्रिय कविः जयशंकर प्रसाद, 14. मानस, कामायनी और उर्वशी। इनके अलावा अँगरेज़ी व हिन्दी की अनेक पुस्तकों का सम्पादन।
विविध
केन्द्रीय हिन्दी संस्थान का राहुल सांकृत्यायन पुरस्कार (2006), साहित्य सेवा सम्मान (बिहार राष्ट्रभाषा परिषद्, 1995), राधाकृष्ण पुरस्कार (राँची एक्सप्रेस,1997), अक्षरकुम्भ सम्मान , जमशेद्पुर 2008, झारखण्ड गौरव तथा अन्य कई दर्जन सम्मान।
जीवन परिचय
दिनेश्वर प्रसाद / परिचय
कविता कोश पता
www.kavitakosh.org/

कुछ प्रतिनिधि रचनाएँ