भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

नए बीज़ों की जगह / अमिता प्रजापति

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

विरोधों की रिमझिम बारिश
मन की ज़मीन तर करती है
क्रोध एक ट्रैक्टर की तरह
खड़खड़ाता हुआ
यहाँ से वहाँ दौड़ता है
उखाड़ता घास-फूस
उथलाता मिट्टी को
इस तरह बनती है
नए बीज़ों की जगह
यह अगली फ़सल की तैयारी है