भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

पीड़ा में होना कठिन है / गुन्नार एकिलोफ़

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पीड़ा में होना कठिन है
पीड़ा में होना प्रेम के बिना कठिन है
प्रेम करना संभव नहीं है बिना पीड़ा में पड़े हुए
प्रेम करना कठिन है

(मूल स्वीडिश से अनुवाद : अनुपमा पाठक)