भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

प्रार्थना / हरीश करमचंदाणी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

देना
इतनी शक्ति भर
कि अन्याय को न सहन कर सके
लाख शत्रु बढ़ जाये
हो
इतनी शक्ति भर
कि शामिल न हो उनके कृत्यों में
शक्ति अन्याय की लाख बढ़ जाये