भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

बच्चे और वामपन्थ / एरिष फ़्रीड / प्रतिभा उपाध्याय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सही है वह
बच्चों से जो कहता है
तुम्हें हक़ है सोचने का,
बच्चों से जो कहता
तुम्हें हक़ है उल्टा सोचने का,
सही है वह ।

बच्चों से जो कहता है
तुम्हें कुछ नहीं सोचना
सही है वह
बच्चों से जो कहता है
फ़र्क नहीं पड़ता तुम्हारे सोचने से
सही है वह ।

वह बच्चों से वही कहता है
जो वह ख़ुद सोचता है
और उनसे कहता है
कि इसमें कुछ ग़लत हो सकता है
शायद वही
है वामपन्थी ।

मूल जर्मन से अनुवाद : प्रतिभा उपाध्याय