भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

मेडलिन / मुइसेर येनिया

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अब आप कोलम्बिया में हैं
मेडलिन
जहाँ यथार्थ स्वप्न बन गया था
ईश्वर ने जैसे एक स्वप्न देखा था
जिसे वो इस धरती पर छोड़ गया
अब आप इस नए संसार में हैं

लोगों के चेहरों पर
फूलों के बीज हैं
पहाड़ लोगों की निगाहों से ऊँचे हैं
घास, अज्ञात लोगों के हाथ हैं
यह सूर्य इतना गर्म है कि वो चाट रहा है लोगों के हृदय
आप एक नए स्वप्न के भीतर हैं

माएँ जन्म दे रही हैं रंगों को
काला, आनुवांशिक, स्पेनिश
फल बहुत मीठे हैं, जुबान की जानकारी से ज्यादा

यह वो जगह है जहाँ यथार्थ
स्वप्न बना था ।