भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

मौरिस करेम

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मौरिस करेम
Maurice Careme -.jpg
जन्म 12 मई 1899
निधन 13 जनवरी 1978
उपनाम Maurice Carême
जन्म स्थान वाव्र, बेल्जियम
कुछ प्रमुख कृतियाँ
माँ (1935), चूहा और बिल्ली, समुद्री किला, छठा दिन, गुलाबी जिराफ़ आदि पचास से ज़्यादा कविता-संग्रह प्रकाशित।
विविध
बेल्जियम के फ़्रांसीसी भाषी कवि। 15 वर्ष की उम्र में अपनी पहली प्रिया बेर्था डेट्री के लिए कविताएँ लिखना शुरू किया। फिर सारा जीवन कविताएँ लिखते रहे। 29 वर्ष की उम्र में बेर्था से मनमुटाव। बेर्था को छोड़कर मौरिस करेम ब्रुसेल्स के एक उपनगर में आकर रहने लगे। 1919 में ’हमारे युवा’ (Nos Jeunes) नामक साहित्यिक पत्रिका की शुरुआत। फिर 1920 में उसका नाम बदलकर ’स्वतन्त्र पत्रिका’ (La Revue indépendante) कर दिया। बीसवीं सदी के फ़्रांसीसी भाषा के एक बड़े कवि माने जाते हैं। फ़्रांसीसी भाषा में सबसे पहल्र करेम ने ही बच्चों के लिए कविताएँ लिखीं। ’बाल कविता’ के प्रसिद्ध कवि, जिनकी बाल कविताओं के अनुवाद दुनिया भर की भाषाओं में हुए। लेकिन वयस्कों के लिए भी बड़ी संख्या में कविताएँ लिखीं। हिन्दी में पहली बार कविता कोश द्वारा प्रस्तुत।
जीवन परिचय
मौरिस करेम / परिचय
कविता कोश पता
www.kavitakosh.org/

कुछ प्रतिनिधि रचनाएँ