भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

यह जो बच रहा है / सांवर दइया

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

आंधी ही नहीं
आग भी बना समय

इतना कुछ उड़ जाने पर भी
इतना कुछ जाने पर भी

इतना-सा कुछ
यह जो बचा रहा है
सिर्फ़ इसीलिए
रचना में इतना ही सच रहा है !