भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

वह / अहमेद फ़ौआद नेग़्म / राजेश चन्द्र

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

थोड़े दिनों तक
वह रहता है
‘‘मार्क्सवादी‘‘
बाक़ी दिनों में
होता है वह
एक ‘‘मुस्लिमवादी‘‘

वह
क़ायम कर लेता है मैत्री
तमाम शासकों के साथ

वह धारण करता है
एक साथ
सत्रह विचारधाराओं को ।

अँग्रेज़ी से अनुवाद : राजेश चन्द्र