भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

विदा की कविता / एज़रा पाउंड

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हलकी धूल पर हो रही है हलकी बारिश
सराय के आँगन में सरो के पेड़
लगातार, हरे, और हरे होते जाएँगे
लेकिन आप, श्रीमान, विदा होने से पहले
मदिरा ले लें
क्योंकि आपके गिर्द कोई मित्र नहीं रह जाएगा
जब पहुँचेंगे आप गो के द्वारों के पास

(रिहाकू या ओगाकित्सू)

अँग्रेज़ी से अनुवाद : नीलाभ