भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

Changes

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पुस्तक साँचे के टैक्स्ट में सुधार किया है।
{{KKAnooditPustak
|चित्र=--
|नाम=माँ की मीठी आवाज़
|रचनाकार=अनोतोली पारपरा
|अनुवादक=[[अनिल जनविजय]],[[लीलाधर मंडलोई]]
|प्रकाशक=--शिल्पायन प्रकाशन, वैस्ट गोरखपार्क, शाहदरा, दिल्ली-110032|वर्ष=--2005
|भाषा= रूसी
|विषय=--|शैली=--|पृष्ठ=--95|ISBN=- 81-87302-92-5|विविध=--|विविध=--
}}
Anonymous user