भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

श्वान / एल्युआर

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जोशीले कुत्ते!
 
संपूर्ण आवाज़
और इशारों से
अपने मालिक के

जीवन को
हवा की तरह सूँघ
अपनी नाक से

चुप रह

मूल फ़्रांसिसी से अनुवाद : हेमन्त जोशी