भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

सदस्य वार्ता:210.212.158.179

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

priya bhaai, aapne yah bahut mahatvapurn kaam kiyaa hai. aapkaa sandesh maine padhliyaa thaa. mai bhii is kaam ko karne vaalaa thaa. aapne kar diyaa, aabhaarii hun. Is tarah aap sabhii anya jagahon se kavitaayen uthaa kar yahaan rakh sakte hain. kaise hain aap? aur kyaa kar rahe hain? kripyaa apnaa e-mail kaa pataa bhejiyegaa. mai 18 august ko bhaarat jaa rahaa hun. aapse kahin mulaakaat ho sakegii kyaa? mai 24 taariikh ke baad ek saptaah lagaataar Dilli men hii rahungaa. haardik mangalkaamnaon ke saath saadar anil janvijay


यह वार्ता पृष्ठ उन बेनामी सदस्यों के लिये है जिन्होंने या तो खाता नहीं खोला है या खाते का प्रयोग नहीं कर रहे हैं।

इसलिये उनकी पहचान के लिये हमें उनका आइ॰पी पता प्रयोग करना पड़ता है। आइ॰पी पता कई सदस्यों के लिए साझा हो सकता है। यदि आप एक बेनामी सदस्य हैं और आपको लगता है कि आपके बारे में अप्रासंगिक टीका टिप्पणी की गई है तो कृपया सदस्यता लें या सत्रारंभ करें ताकि अन्य बेनामी सदस्यों में से आपको अलग से पहचाना जा सके।