भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

सुबह / निशान्त

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

दिन की शुरुआत
होती है
सुन्दर- सुहानी
जैसे पिता कोई
लुभाए अपने बच्चे को
स्कूल भेजने को
फिर तो उसे होता है
दिन भर तपना