भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

हर कविता / मरीना स्विताएवा

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हर कविता
संतान है प्यार की
विपन्न और अवैध ।

पहली संतान
रेल की पटरी पर
हवाओं के अभिवादन के लिए
छोड़ी हुई ।

हृदय के लिए- नरक और वेदी,
हृदय के लिए- स्वर्ग और अपमान ।

कौन है पिता ? सम्भव है ज़ार,
सम्भव है- ज़ार, सम्भव है चोर ।

रचनाकाल : 14 अगस्त 1918

मूल रूसी भाषा से अनुवाद : वरयाम सिंह