भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

हार-जीत / जय छांछा

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी भी प्रतियोगिता में
कभी भी / कहीं भी
पक्ष और विपक्ष होने ही होंगे
अंत में
सुनिश्चित ही है
एक की जीत
और दूसरे की हार ।

लेकिन
अपवाद के रूप में
प्रेम की दौड़ में भी
पक्ष और विपक्ष में विभक्त करने पर
या तो दोनों की हार होगी
या तो दोनों की जीत ।

मूल नेपाली से अनुवाद : अर्जुन निराला