भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अहसासों की यात्रा / रचना त्यागी 'आभा'

Kavita Kosh से
Sharda suman (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 12:29, 26 जुलाई 2014 का अवतरण ('{{KKGlobal}} {{KKRachna |रचनाकार=रचना त्यागी 'आभा' |अनुवादक= |संग्रह...' के साथ नया पन्ना बनाया)

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अहसासों को तुम तक
पोटली में बाँधकर
लाने के जतन में
कई शब्द जो भारी थे,
कहीं पथ में ही गिर गये

और तुम तक पहुँचे
केवल हल्के शब्द
जताने हल्के अहसास ...
और तुम रह गये वंचित
मेरी सम्पूर्ण सम्प्रेषणा से,
सम्पूर्ण भावनाओं से...
और जाना केवल आधा हृदय।
प्रतिकृत भी किया
असम्पूर्ण तुमने,
ठीक उसी अनुपात में
जिसमें गिरे थे शब्द
और जिसमें पहुँचे तुम तक...