भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

जै हिन्द, अखीडू की साई, नेता जी, जै हिन्द / गढ़वाली

Kavita Kosh से
Lalit Kumar (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 04:55, 6 सितम्बर 2016 का अवतरण ('{{KKGlobal}} {{KKLokRachna |रचनाकार=अज्ञात }} {{KKLokGeetBhaashaSoochi |भाषा=गढ़वाली }...' के साथ नया पृष्ठ बनाया)

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

   ♦   रचनाकार: अज्ञात

जै हिन्द, अखीडू की साई, नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, बर्लिन पौंछीन नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, आजादी ताई नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, आरसी को ऐना नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, हिटलर मिलीक नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, सिंगापुर गैना नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, हिन्द लुबा गड़ी सरी नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, सिंगापुर जैक नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, फौज खड़ी करी नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, कपड़ो की गाजी नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, नेता जी लगै नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, हिन्द, प्राण की बाजी नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, फाँडी जाली ऊन नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, सुफल फलीगे नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, तुमारो खून, नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, बाखरा की गूदी नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, धनि ऊँ मात पितौंक जै हिन्द,
जै हिन्द, जौन पिलाये दूदी नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, लगोठी का बाद नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, त्वैन लड़े लड़ै नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, हम होया आजाद नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, धातु गड़े पारो नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, मा गुंजीगे नेता जी, जै हिन्द,
जै हिन्द, को नारो नेता जी, जै हिन्द,
सड़की को सूत, सुमन, सडकी को सूत ले,
टीरी मा पैदा ह्वैगे, सुमन, सुमन सपूत ले!

शब्दार्थ