भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

माँ / मुनव्वर राना

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

माँ
Maa munavvar rana.jpg
रचनाकार मुनव्वर राना
प्रकाशक वली अस्सी अकादमी, 8 - फ़र्स्ट फ़्लोर, एफ़. आई. ढींगरा अपार्टमेंट्स, लखनऊ - 226001, उत्तर प्रदेश, भारत
वर्ष 2005
भाषा हिन्दी
विषय "माँ" तथा अन्य रिश्तों के संदर्भ में मुख़्तलिफ़ शे'रों का संग्रह
विधा
पृष्ठ 72
ISBN
विविध
इस पन्ने पर दी गई रचनाओं को विश्व भर के स्वयंसेवी योगदानकर्ताओं ने भिन्न-भिन्न स्रोतों का प्रयोग कर कविता कोश में संकलित किया है। ऊपर दी गई प्रकाशक संबंधी जानकारी छपी हुई पुस्तक खरीदने हेतु आपकी सहायता के लिये दी गई है।

हर उस बेटे के नाम
जिसे माँ याद है

इस किताब की बिक्री से हासिल की गई तमाम आमदनी “माँ फ़ाउण्डेशन” की ओर से ज़रूरतमन्दों की इमदाद के लिए ख़र्च की जाएगी। --मुनव्वर राना

कविता कोश का पाठकों से अनुरोध है कि यदि उन्हें यह पुस्तक अच्छी लगे तो वे "माँ फ़ाउण्डेशन" के सहायतार्थ इसके प्रिंट संस्करण को भी खरीदें। कविता कोश में यह पुस्तक श्री मुनव्वर राना ने इस विचार से संकलित की है कि यह पुस्तक विश्व भर के लोगो तक पहुँच सके और लोग "माँ फ़ाउण्डेशन" के सहायतार्थ आगे आयें। इस पुस्तक का मूल्य 25 रुपये है और पुस्तक नीचे दिये गये पते से प्राप्त की जा सकती है:

10-C, बोलाईदत्त स्ट्रीट, कोलकाता - 700073, पश्चिम बंगाल, भारत


माँ


बुज़ुर्ग


ख़ुद


बहन


भाई


बच्चे


वह


विविध


गुरबत


बेटी