भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

श्रेणी:दोहे

Kavita Kosh से
पूर्णिमा वर्मन (चर्चा) द्वारा परिवर्तित 10:45, 18 अगस्त 2006 का अवतरण

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

दोहा एक मात्रिक छंद है, जिसमें चार पद होते हैं। पहले और तीसरे पद में १३ तथा दूसरे और चौथे पद में ११ मात्राएं होती हैं। दूसरे और चौथे पद के अंत में लघु मात्रा होती है।


"दोहे" श्रेणी में पृष्ठ

इस श्रेणी में निम्नलिखित 55 पृष्ठ हैं, कुल पृष्ठ 55

द आगे.

र आगे.