भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

लन्दन डायरी-16 / नीलाभ

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जितनी बार

वे उठाते हैं दीवार

उतनी बार

दीवारें गिराने वाले

पैदा हो जाते हैं


दीवारें खड़ी करने वालों से

कहीं ज़्यादा हैं

दीवारें गिराने वाले