भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

लन्दन डायरी-24 / नीलाभ

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हवा में एक नई लहर आई है
वह धुन जो स्टीवी वण्डर ने गाई है
ढोल की थाप पर
गीत के आलाप पर
थिरकता है इस काले गायक का तनावर जिस्म
थिरकता है एक समूचे महाद्वीप का अँधेरा
रोशनी में फूट पड़ने के लिए

______________________________________________

सन्दर्भ 1. शनिवार-इतवार की दो छुट्टियों के साथ जब शुक्रवार या सोमवार का अवकाश जुड़ जाता है तब उसे लम्बा वीक-एण्ड कहते हैं। 2. पब - शराबख़ाना। 3. रेग्गे - वेस्ट इंडीज से आये लोगों का संगीत। 4. केन लिविंग्स्टन - लेबर पार्टी का वामपन्थी नेता। 5. ग्रेटर लण्डन काउन्सिल - लन्दन महानगर पालिका 6. पे-पैकेट - हफ़्तावार वेतन जो शुक्रवार की शाम को बँटता है। 7. कम्मी - खेत-मजूर 8. किंग्स क्रौस - लन्दन शहर का एक मुहल्ला जो अब वेश्याओं के लिए कुख्यात है। 9. साउथॉल - लन्दन में भारतीय मूल के लोगों की बस्ती जो छोटा हिन्दुस्तान के नाम से मशहूर है। 10. ग़ालिब से साभार। 11. ट्यूब - ज़मीन के भीतर चलने वाली रेलगाड़ी 12. पैडी - आयरलैण्ड से आये मज़दूरों को अंग्रेज उपेक्षा से पैडी कहते हैं। अब यह शब्दी किसी भी आयरिश के लिए इस्तेमाल होता है।